ख़ास ख़बर

ख़ास ख़बर

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

By मनोज यादव

कोरबा। शहर के करीब आईटी कॉलेज के पास हाथियों के दल के पहुंचने की सूचना पर वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची जहां अफवाह बाजार आसपास फैला हुआ था, वहीं आईटी कॉलेज के चौकीदार ने हाथी के झूंड को देखने की पुष्टि की है।

वन विभाग के अफसरों को यह खबर सुनकर पसीना छूट गया, कि हाथियों का दल शहर के करीब आ गया है। रिसदी, नकटीखार रोड पर आईटी कॉलेज के पास 8 हाथियों का दल रोड क्रॉस कर जंगल की तरफ जाने की अफवाह आसपास के बस्ती और राहगीरों को मिली। कुछ समय के लिए वनकर्मियों को भी लगा कि हाथियों का दल फिर से शहर की तरफ आ धमका होगा, लेकिन घटनास्थल पहुंचकर जांच की गई तो ऐसा कोई भी हाथी के पदचिन्ह नजर नहीं आए। वन विभाग के अफसरों की मानें तो तीन हाथियों का दल कटघोरा वन परिक्षेत्र के पोड़ीखोहा में देखा गया है। ट्रैकिंग कर जंगल की ओर खदेड़ा जा रहा है।

हाथी देखे जाने का दावा कर रहे आईटी कॉलेज के सुरक्षाकर्मी संतोष देवांगन की मानें तो सुबह 5:00 बजे एक साइकिल सवार दौड़ते हांफते कॉलेज के पास पहुंचा और बताया कि हाथी रोड क्रॉस कर रहे हैं।

कुछ माह पहले ही 4 हाथियों का दल शहर के मध्य घंटाघर हेलीपैड पहुंचा था। इस घटना से शहर में हड़कंप मच गया था। हाथियों के जंगल की ओर भगाने वनकर्मियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी थी। फिर से हाथियों के आ जाने की सूचना पर वन विभाग के कर्मचारियों को भी वही दिन याद आ गया।

ख़ास ख़बर

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

By मनोज यादव

कोरबा। जिला अस्पताल में भर्ती युवती लापता हो गई। घटना की जानकारी जिला अस्पताल प्रबंधन और परिजनों को तब हुई जब वह अपने बेड पर नहीं मिली।जिला अस्पताल के महिला वार्ड के 13 नंबर बेड पर भर्ती 19 वर्षीय अनीता केंवट रामपुर बस्ती की निवासी है। कुछ दिनों पहले उसकी तबीयत बिगड़ी और उसे जिला अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां वह भर्ती थी। मंगलवार की सुबह जब परिजन जिला अस्पताल उसे देखने पहुंचे तो बेड पर नहीं मिली। कुछ देर के लिए लगा कि बाथरूम या फिर आसपास टहलने निकली होगी, लेकिन घंटों बीत जाने के बाद भी वह अपने बेड पर वापस नहीं पहुंची, तब इसकी जानकारी अस्पताल स्टाफ को दी गई।

वार्ड में भर्ती मरीजों की मानें तो लापता युवती अपनी सहेली के साथ रहती थी। वह कब और कैसे लापता हो गई उन्हें भी नहीं पता। जब परिजन तलाश करने लगे तो घटना की जानकारी सामने आई।

आईएसओ प्रमाणित जिला अस्पताल हमेशा सुर्खियों में रहा है। अस्पताल की सुरक्षा को लेकर नगर सेना के जवान, निजी सुरक्षाकर्मियों की तैनाती, जिला अस्पताल परिसर में चौकी है, फिर भी जिला अस्पताल में कई ऐसे मामले सामने आ चुके हैं।

देश

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

सोनीपत। 'म्हारी छोरियां छोरों से कम ना से' इस बात को फिर एक बार चरितार्थ किया है, हरियाणा की सौम्या ने। यह पहली बार नहीं है की बेटियों ने देश का नाम रौशन किया है। कई ऐसे उदाहरण देखने को मिलते हैं, जब बेटियां समाज की विभिन्न परिस्थितिओं से लड़ कर अपने हुनर को पहचान देती हैं।

अब बेटियां सिर्फ लाडली और बहुरानी के नाम से नहीं जानी जाती बल्कि एक पिता का सम्मान भी हैं। देखा जाये तो बेटियां अन्तरिक्ष पर जा रही हैं, एवरेस्ट जैसी ऊँची-ऊँची पर्वतें फतेह कर रही हैं। ऐसे साहस भरे कार्यों की लंबी सूची है। संतोष यादव से लेकर शिवांगी पाठक तक पहाड़ पर चढ़ने, खेलों में स्वर्णिम प्रदर्शन के साथ ही वे तीनों सेनाओं में बड़ी संख्या में भागीदारी भी कर रही हैं। अर्द्धसैनिक बलों में तो प्रभावी भूमिका में हैं। हरियाणा के सोनीपत जिले के सेक्टर 12 निवासी सौम्या इसकी बेमिसाल मिसाल हैं।

सौम्या को बीएसएफ में हरियाणा की पहली और देश की तीसरी महिला असिस्टेंट कमांडेंट बनने का गौरव प्राप्त हुआ है। बचपन से ही फौज में जाने की आकांक्षी इस लाडली ने वर्ष 2016 में मुरथल स्थित दीनबंधु छोटूराम विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय से कंप्यूटर साइंस और इंजीनियरिंग में बीटेक और संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा दी थी। वह पहले ही प्रयास में यह सफल हुईं और ग्वालियर के टेकनपुर स्थित बीएसएफ अकादमी में प्रशिक्षण के लिए गईं। बीते बुधवार को आयोजित दीक्षांत समारोह में सौम्या को स्वॉर्ड ऑफ ऑनर से भी सम्मानित किया गया।

एक्सीडेंट

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

By संतोष ठाकुर

जगदलपुर। राष्ट्रीय राजमार्ग 30 में सोमवार की देर रात एक आई-10 कार धू-धू कर जलने लगी। मौके पर पहुंची पुलिस ने कार में सवार दोनों युवकों को सुरक्षित निकाला। कार जलकर पूरी तरह कंडम में तब्दील हो गई। आसपास के लोगों ने बताया कि कार चालक ने पहले तो मवेशी को ठोकर मारी उसके बाद बीच रोड में कार बंद होकर खड़ी हो गई, जिसके बाद शॉर्ट सर्किट के चलते कार में आग लगी।

घटना की जानकारी देते हुए बस्तर थाना प्रभारी सत्यम चौहान ने बताया कि कोंडागांव से जगदलपुर एक कार क्रमांक सीजी 17 केएल 0779 में सवार हो कर दो युवक आ रहे थे कि अचानक पर परचनपाल के पास रात 11 बजे सड़क पर चल रहे मवेशी को कार चालक द्वारा ठोकर मारने के बाद कार बीच सड़क में बंद हो गई। कुछ देर बाद कार से धुंआ निकलने लगा और देखते ही देखते आग पूरे कार को अपनी चपेट में ले लिया।

घटना के चलते दोनों ओर से आने वाले वाहन कई घंटों के लिए सड़क पर खड़े हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस की टीम ने युवकों को तो निकाल लिया। लेकिन कार पूरी तरह जल कर क्षतिग्रस्त हो गई। पुलिस ने बताया कि कार जगदलपुर के ललित आचार्य के नाम पर रजिस्टर्ड है।

The Voices FB